CBSE-NET (Based on NTA-UGC) Hindi Literature (Paper-II) हिन्दी साहित्य का इतिहास (History of Hindi Literature)-हिन्दी संत-काव्य (Hindi Saint Poet) Revision (Page 6 of 6)

Subscribe now to access pointwise, categorized & easy to understand notes on 483 key topics of CBSE-NET (Based on NTA-UGC) Hindi Literature (Paper-II) covering entire 2018 syllabus. All the updates for one year are also included. View Features or choose a topic to view more samples.

Rs. 450.00 or

संतकाव्य

संतकाव्य: - निर्गुण भक्तिधारा, सगुण भक्तिधारा

भक्तिकाल की प्रवृत्तियाँ

  • निर्गुण काव्यधारा की विशेषताएँ:
  • गुरुमहिमा का बखान (सद्गुरु की भक्ति)
  • ईश्वर के निराकार रूप् में आस्था
  • जाति पाँति का विरोध
  • रहस्यवादी भावना
  • माया का अस्तित्व
  • अवतारवाद का खंडन
  • पाखंड व रूढ़िवादिता का विरोध
  • लोकसंग्रह भाव
  • नारी के प्रति दृष्टिकोण (माया रूप)

विशेष-सूफी काव्य में हिन्दू प्रेम कथाओं का आधार मानकर लौकिक प्रेम से अलौकिक प्रेम की पुष्टि की गई। इसमें श्रृंगार रस को प्रमुखता मिली तथा सूफी सिद्धांतों का प्रतिपादन

… (3460 more words) …

Subscribe & login to view complete study material.

f Page