Subscribe now to access pointwise, categorized & easy to understand notes on 55 key topics of CTET Paper-II Hindi covering entire 2016 syllabus. All the updates for one year are also included. View Features or .

Rs. 100.00 or

भाषा विकास के अन्तर्गत अधिग्रहण करने की विभिन्न अवस्थाएँ (Stages of Acquisition in Language Development)

बच्चे की भाषा के विकास पर उसकी मानसिक योग्यताओं का विकास निर्भर करता है। भाषा बच्चे में ज्ञानवृद्धि तथा अनेक विकासात्मक प्रक्रियाओं के अधिग्रहण हेतु आवश्यक है। बच्चे में मानसिक, सामाजिक, सांस्कृतिक तथा बौद्धिक विकास इस बात पर निर्भर करता है कि उसने भाषा का अधिग्रहण किस सीमा तक किया है। यद्यपि भाषा विकास का अपना एक निश्चित व सतत ढंग है परन्तु अलग-अलग बच्चोंमें भाषा को अधिग्रहण करने की गति एवं योग्यता भिन्न-भिन्न होती है। यह योग्यता आनुवंशिक तथा बाहरी वातावरण दोनों पर निर्भर करती है। विकास की एक अवस्था से दूसरी अवस्था में परिवर्तन आकस्मिक नहीं होता, बल्कि… (37 more words) …

Subscribe & login to view complete study material.

सीखना परिभाषाएँ (Definitions of Learning)

रिली तथा लेविस के अनुसार, ”अभ्यास या अनुभूति से व्यवहार में धारण योग्य परिवर्तन को सीखना कहा जाता है।“

थॉर्नडाइक के अनुसार, ”उपयुक्त अनुक्रिया के चयन तथा उसे उत्तेजना से जोड़ने को अधिगम कहते हैं।“

स्किनर के अनुसार, ”सीखना, व्यवहार में उत्तरोत्तर सामंजस्य की प्रक्रिया है।“

वुडवर्थ के अनुसार, ”नवीन ज्ञान और नवीन प्रतिक्रियाओं को प्राप्त करने की प्रक्रिया सीखने की प्रक्रिया है।“

क्रो व क्रो के अनुसार, ”सीखना - आदतों, ज्ञान और अभिवृत्तियों का अर्जन है।“

Sign In