क्षितिज(Kshitij-Textbook) (CBSE Class-10 Hindi): Questions 844 - 855 of 1777

Get 1 year subscription: Access detailed explanations (illustrated with images and videos) to 2295 questions. Access all new questions we will add tracking exam-pattern and syllabus changes. View Sample Explanation or View Features.

Rs. 1650.00 or

Passage

छाया मत छूना

मन, होगा दुख दुना।

जीवन में हैं सुरंग सुधियां सुहावनी

छवियों को चित्र-गंध फैली मनभावनी:

तन-सुगंध शेष रही, बीत गई यामिनी,

कुंतल के फूलों की याद बनी चाँंदनी।

भूल-सी एक छुअन बनता हर जीवित क्षण-

छाया मत छूना

मन, होगा दुख दूना।

Question number: 844 (7 of 13 Based on Passage) Show Passage

» क्षितिज(Kshitij-Textbook) » Additional Questions » गिरिजाकुमार माथुर छाया मत छूना

Short Answer Question▾

Write in Short

माथुर जी द्वारा रचित प्रस्तुत प्रसंग की व्याख्या में कवि के अनुसार जीवन में क्या भरा हुआ है?

Question number: 845 (8 of 13 Based on Passage) Show Passage

» क्षितिज(Kshitij-Textbook) » Additional Questions » गिरिजाकुमार माथुर छाया मत छूना

Short Answer Question▾

Write in Short

माथुर जी द्वारा रचित प्रस्तुत प्रसंग की व्याख्यां में जीवन का एक-एक पल क्या करता हुआ गुजर रहा है?

Question number: 846 (9 of 13 Based on Passage) Show Passage

» क्षितिज(Kshitij-Textbook) » Additional Questions » गिरिजाकुमार माथुर छाया मत छूना

Short Answer Question▾

Write in Short

गिरिजाकुमार माथुर द्वारा रचित प्रस्तुत प्रसंग में कवि क्या बताना चाहा रहा है?

Question number: 847 (10 of 13 Based on Passage) Show Passage

» क्षितिज(Kshitij-Textbook) » Additional Questions » गिरिजाकुमार माथुर छाया मत छूना

Short Answer Question▾

Write in Short

माथुर जी द्वारा रचित प्रस्तुत प्रसंग की व्याख्या में कवि के अनुसार मन को क्या भाने लगा है?

Question number: 848 (11 of 13 Based on Passage) Show Passage

» क्षितिज(Kshitij-Textbook) » Additional Questions » गिरिजाकुमार माथुर छाया मत छूना

Short Answer Question▾

Write in Short

माथुर जी द्वारा रचित प्रस्तुत प्रसंग दुखद परिस्थितियों में सुख के बिताए पल याद करने से क्या ह़ो जाता है।

Question number: 849 (12 of 13 Based on Passage) Show Passage

» क्षितिज(Kshitij-Textbook) » Additional Questions » गिरिजाकुमार माथुर छाया मत छूना

Short Answer Question▾

Write in Short

माथुर जी द्वारा रचित प्रस्तुत प्रसंग की व्याख्या में कवि के अनुसार क्या व्यतीत हो रहा है?

Question number: 850 (13 of 13 Based on Passage) Show Passage

» क्षितिज(Kshitij-Textbook) » Additional Questions » गिरिजाकुमार माथुर छाया मत छूना

Short Answer Question▾

Write in Short

माथुर जी द्वारा रचित प्रस्तुत प्रसंग की व्याख्यां में कवि के अनुसार चाँदनी में क्या याद दिलाता है?

Question number: 851

» क्षितिज(Kshitij-Textbook) » Additional Questions » गिरिजाकुमार माथुर छाया मत छूना

Short Answer Question▾

Write in Short

माथुर जी की विचारधाराएं क्या थी?

Question number: 852

» क्षितिज(Kshitij-Textbook) » Additional Questions » गिरिजाकुमार माथुर छाया मत छूना

Short Answer Question▾

Write in Short

माथुर जी दव्ारा रचित उन्होंने अपने काव्यों में किस पर बल दिया है?

Question number: 853

» क्षितिज(Kshitij-Textbook) » Additional Questions » सूरदास पद

Short Answer Question▾

Write in Short

किसको हिन्दी साहित्य का सूर्य कहा जाता हैं?

Question number: 854

» क्षितिज(Kshitij-Textbook) » Additional Questions » तुलसीदास राम-लक्ष्मण-परशुराम संवाद

Short Answer Question▾

Write in Short

तुलसीदास जी की मृत्यु कहाँ व किस सन्‌ में हुई थी?

Question number: 855

» क्षितिज(Kshitij-Textbook) » Additional Questions » तुलसीदास राम-लक्ष्मण-परशुराम संवाद

Short Answer Question▾

Write in Short

तुलसीदास जी रचनाओं में किन शब्दों की अधिकता होते हुए भी भाषा में कलिष्टता नहीं आ पाई है?

f Page
Sign In